बदले रंग
Posted by
Posted in

बदले रंग

लेखक – डॉ संगीता झा ये सुनीति के जीवन में पिछले पांच महीनों में सबसे अच्छा दिन साबित हुआ। उस दिन शीतल और गार्गी से जो दोस्ती की शुरूआत हुई वो आज तक जारी है। दोनों आज भी डाॅ. सुनीति की अभिन्न मित्रा हैं। अब शुभदा की असलियत का पता अंकिता को भी चल गया […]

कुछ खट्टी कुछ मीठी – 2
Posted by

कुछ खट्टी कुछ मीठी – 2

कहां तो सुनीति की जिंदगी में रंग थे, सपने थे, उत्साह था, उमंग थी और न जाने ईश्वर ने उसकी जिदंगी को कितनी सारी  से नवाजा था आरै सब कछु अब सुनीति को धराशायी नज़र होता आ रहा था। पर करे भी तो क्या करे, ओखली में सिर दे दिया है तो मूसल का क्या डर। […]

कुछ खट्टी कुछ मीठी
Posted by

कुछ खट्टी कुछ मीठी

लेखक – डॉ संगीता झा हास्टल के दरवाजे पर जूनियर्स का स्वागत करने के लिए हास्टल में रहने वाली सीनियर्स के अलावा डे स्कालर्स (घर से कालेज आने वाले) सीनियर लड़कियां भी थीं। सबकी जुबान पर बस एक नाम था सुनीति चौहान। जो भीड़ में सिर झुकाए खड़ी जरूर थी, पर अपने कुरते से अपनी सुड […]

हॉस्टल का पहला दिन
Posted by
Posted in

हॉस्टल का पहला दिन

लेखक – डॉ संगीता झा सब संयोग ही तो है। न कालेज में स्टांइक होती, न सुनीति को एक अनोखी रैगिंग का सामना सिर्फ एक दिन के लिए ही करना पड़ता, न सुनीति को सही माप के कपड़े सिलाने का समय मिलता, न उस रैगिंग से सबक लेकर वो एक आज्ञाकारी सुनीति बनने का प्रण लेती, […]

कॉलेज का पहला दिन
Posted by
Posted in

कॉलेज का पहला दिन

लेखक – डॉ. संगीता झा आज कॉलेज का पहला दिन था। रात से ही सुनीति ने अपनी सफेद ड्रेस प्रेस कर रखी थी। काले जूते भी टनाटन पालिश थे। दो काले फीते बिस्तर के किनारे रख दिए। सुबह छ: बजे की लोकल पकड़ कर उसे रायपरु जाना था। कलेजा निकलकर हाथों में आ रहा था। जहां एक […]

कॉलेज एडमिशन
Posted by
Posted in

कॉलेज एडमिशन

लेखक – डॉ. संगीता झा आखिर आज वो दिन आ ही गया जब सुनीति को पापा के साथ एडमिशन के लिए मेिडकलकालजे जानाथा।रात भर सनुीति बिस्तर में करवटें बदलती रही। कसैे हागेा वो कालेज….वो प्रिंसिपल का आफिस क्या सुनीति खुशी से पागल हो रही थी…. कल कौन-सी डेंस पहनूंगी…..चीखने को दिल चाह रहा था। आंखें बंद कर […]

पी.एम.टी. रिजल्ट
Posted by

पी.एम.टी. रिजल्ट

लेखक – डॉ. संगीता झा ”मम्मी, मैं कालेज जा रही हूं। शाम को देर से लौटूंगी आज मेडिसन की एक्स्टां क्लास है। डा. सुनीति मुस्करा उठती है शायद ये भी पिछले हफ्ते की तरह ही एक्स्टां क्लास हो, जिसमें सुनीति को बेटी के बैग से सिनेमा की टिकटें मिल गयी थी। जिसे दख्ेा कर भी उन्हानेें अनदख्ेाा […]

Tunisian democracy group wins Nobel peace prize
Posted by
Posted in

Tunisian democracy group wins Nobel peace prize

National Dialogue Quartet prevented Tunisia, birthplace of Arab Spring, from sliding into civil war.A Tunisian coalition of workers, employers, human rights activists and lawyers won the Nobel peace prize on Friday for pulling the country that sparked the Arab Spring back onto a path toward democracy and preventing it from descending into civil war.The prize […]

Eliot painted his face green to write
Posted by

Eliot painted his face green to write

T.S.Eliot the author of The Waste Land, had multiple hideaways. At one such place situated on Charing Cross Road, visitors were to inquire only a man known only as ‘The Captain’. On coming face to face, it became evident that the writer covered his face with tinted green powder!